272 नए कोरोना पोजिटिव मामले आए सामने…..

इंदौर। अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि इंदौर प्रशासन ने मध्य प्रदेश के सबसे प्रभावित जिले में COVID-19 मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए एक सप्ताह के भीतर अस्पतालों में 800 और बेड की व्यवस्था करने की योजना बनाई गई है। उन्होंने कहा कि जिले में पिछले 24 घंटों में 272 नए सीओवीआईडी -19 रिकॉर्ड मामले दर्ज किए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि इसके साथ ही जिले में कुल मामलों की संख्या 12,992 हो गई है। उन्होंने कहा कि बीमारी के कारण अब तक 393 मरीजों की मौत हो गई है, जबकि 8,934 लोग इलाज के बाद ठीक हुए हैं।

सरकारी आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि इंदौर में इस महीने कोरोना वायरस संक्रमण की सबसे तेज वृद्धि दर्ज की गई, जिले में 5,544 ताजा सीओवीआईडी -19 मामले पाए गए हैं। COVID 19 के लिए जिले के नोडल अधिकारी डॉ अमित मालाकार ने कहा, ‘यह कुल केस काउंट का लगभग 43 प्रतिशत है। वर्तमान में, हमारे पास विभिन्न अस्पतालों में COVID-19 रोगियों के लिए कुल 3,700 बिस्तर हैं। इनमें से लगभग 90 प्रतिशत भरे हुए हैं। वर्तमान स्थिति को देखते हुए, हम अगले एक सप्ताह के भीतर अस्पतालों में 800 और बिस्तरों की व्यवस्था करने जा रहे हैं।’

इनमें हाल ही में कोरोना वायरस के लिए चिन्हित सरकारी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में 537 बेड शामिल होंगे। COVID-19 के सबसे पहले मरीज इंदौर में 24 मार्च को सामने आए, जब बीमारी के चार मामले पाए गए थे।

बता दें कि भारत में लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस (COVID-19) के रिकॉर्ड 78 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कुल मरीजों की संख्या 36 लाख के पार हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय की तरफ से सोमवार (31 अगस्त 2020) सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 78 हजार 512 मामले सामने आए हैं और 971 लोगों की मौत हो गई है। इस दौरान 60 हजार 868 मरीज ठीक हुए और आठ लाख 46 हजार 278 सैंपल टेस्ट हुए।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में कुल मामलों की संख्या 36 लाख 21 हजार 246 मामले सामने आ गए हैं और 64 हजार 469 लोगों की मौत हो गई है। देश में कुल सात लाख 81 हजार 975 एक्टिव केस है। 27 लाख 74 हजार 802 मरीज ठीक हो गए हैं। अब तक कुल चार करोड़ 23 लाख सात हजार 914 सैंपल टेस्ट हो गए हैं। रिकवरी रेट 76.63 फीसद है और डेथ रेट 1.78 फीसद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *