STF के बाद ED बढ़ा सकती है जीता मोड़ की मुश्किलें, एक डायरी में मिली थी 27 करोड़ की एंट्री !

STF के बाद ED बढ़ा सकती है जीता मोड़ की मुश्किलें, एक डायरी में मिली थी 27 करोड़ की एंट्री !

Jeeta mod DSP Bimakant drug case follow up

जालंधर (अनिल/वरुण)। पंजाब में बहुचर्चित कबड्डी खिलाड़ी एंव कालोनाईजर जीता मोड़ को STF द्वारा ड्रग रैकेट में गिरफ्तार करने के बाद अब इस केस में ईडी की एंट्री होने लगभग तय मानी जा रही है। जीता नशे के कारोबार से कमाई गई काली रकम का इस्तेमाल जमीनें खरीदने में करता था तथा उसकी जालन्धर के पॉश इलाकों सहित कैंट के दीप नगर में कई अवैध कालोनियां है। ईडी अब उन सभी कालोनियां का डाटा तलब कर सकती है कि आखिर इन जायदादों को खरीदने के लिए पैसा कहां से आया था। इसी के साथ ईडी उन जमींदारों को भी तलब कर सकती है जिनसे जीता मोड़ ने यहा जमीनें खरीदीं थी।

रणजीत जीता के बंगले से मिली आलीशान गाड़ियां STF ने जब्त कर चुकी है। रणजीत के घर से एक हथियार और 100 ग्राम संदिग्ध पदार्थ के अलावा लाखों रुपए की नकदी भी मिली है। एसटीएफ के मुताबिक रणजीत के सम्पर्क में अमेरिका में रहने वाला गुरजंट सिंह और कनाडा का कबड्डी प्लेयर दविंदर सिंह उर्फ़ जवाहर भी है। एक रिपोर्ट में ईडी ने भी ज़िक्र किया था कि रणजीत सिंह ‘जीता’ के खातों में 27 करोड़ रुपए की एंट्री हुई है। मगर यह रकम कहां से आई इसका पुख़्ता प्रमाण उसके पास नहीं है।

फिलहाल इक हाईप्रोफाईल डग रैकेट में गिरफ्तार किए गए जालन्धर के पूर्व डीएसीपी बिमलकांत का नाम आने से कई आलाअधिकारियों सहित सियासी नेताओं की भी नींद उड़ा दी है। जीता के संपर्क में हाईप्रोफाईल अफसरों सहित कई सफेदपोश लोग भी थे। अब ईडी इस एंगल से भी जांच शुरु कर सकती है कि कहीं इस रैकेट में ओर पुलिस अफसर या सफेदपोश लोग तो शामिल नहीं।

Share