अगस्त 2023 में बरसात से टूट गया था बददी का मुख्य पुल

इंतजार हुआ खत्म , 2 से तीन दिन में शुरु होगा बददी मेन पुल

बददी/सचिन बैंसल: बददी-पिंजौर रोड पर हरियाणा को जोडने वाला मुख्य पुल 2 से तीन दिनों के भीतर शुरु हो जाएगा। ठेकेदार ने पहले इस पुल को पूरा करने के लिए 30 अप्रैल निर्धारित की थी लेकिन बाद में 10 मई तक तिथि बढा दी थी। बाद में ज्वाईंटर काम पूरा न होने से कुछ दिनों का और विलंब हो गया था। रोड सेफटी कलब के अध्यक्ष सुरेंद्र शर्मा व उपाध्यक्ष चिंतन कुमार चौधरी ने कहा कि अब आस है कि 2 से 3 दिनों के भीतर यानि 18 मई 2024 तक यह पुल चालू हो जाएगा। पुल न होने से लोगों को नदी में से कच्चे वैकल्पिक रोड से आवागमन करना पडता है।

बुधवार को रोड सेफटी क्लब के मुख्य सलाहकार डाक्टर रणेश राणा ने पुल का दौरा और साईट इंजीनियर से बात की। इंजीनियर ने बताया कि पुल के मध्य दो स्थानों पर ज्वाईंट थे जिसमें ज्वाईंटर भर दिया था लेकिन उसको सूखने व पक्का होने के लिए 48 घंटे का समय चाहिए होता है। यानि अब दो दिन बाद इस पुल से वाहनों का आवागमन प्रारंभ हो जाएगा। कुछ दिन का है इंतजार इस विषय में साईट इंजीनियर असलम खान ने बताया कि पुल का सौ फीसदी काम पूरा हो चुका है और अब बस 2-3 दिनों का इंतजार है। उन्होने कहा कि पुल के दो पिल्लर जहां मिलते हैं वहां ज्वाईंटर को डाल दिया गया है लेकिन उसको पकने के लिए कुछ समय चाहिए जिसमें 48 घंटे न्यूनतम समय लगता है।

टेडी है पुल की एंट्री व एक्जिट-नए बने पुल को मेन हाईवे से मिलाने में अभी कुछ बाधाएं है जिसके कारण एपरोच रोड हरियाणा व हिमाचल का सही मिलान नहीं हो पाया जिससे टेडी छवि अंकुरित हुई है। लघु उद्योग संघ के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य हरिओम सिंह ठाकुर ने बताया कि हरियाणा की डबल इंजन सरकार ने अभी तक हरियाणा की एंट्री से अपना बिजली का खंबा नहीं हटाया है जिसके कारण हरियाणा की एंट्री से पुल पर टेडा चढा जाएगा। इस खंभे की तार भी ज्यादा ऊंचाई पर नहीं है जिससे हादस होंगे। वहीं हिमाचल के जिस ओर पुल का सिर मिलता है वहां मस्जिद के पास मिटटी का भरान नहीं हुआ है और निमंत्रण पैलेस रोड पर ढलान बन गई है। वहां पर भी सडक को पैट्रोल पंप की ओर टेडा कर दिया गया है। यहां दोनो सिरे सही नहीं मिले जिस से हादसे होने का डर भी बना रहेगा।