Breaking Newsशादी समारोहों, पार्टियों और अन्य कार्यक्रमों में शराब परोसने के लाईसेंस को लेकर न‍ियम एवं शर्तें जारी

शादी समारोहों, पार्टियों और अन्य कार्यक्रमों में शराब परोसने के लाईसेंस को लेकर न‍ियम एवं शर्तें जारी

Date:

नई द‍िल्‍ली। द‍िल्‍ली में नई आबकारी नीत‍ि लागू हो चुकी है। इस नई नीत‍ि को लेकर अब अलग-अलग तरह के ल‍िए जा रहे लाईसेंस के ल‍िए आवेदन करने को न‍ियम एवं शर्तें भी जारी की जा रही है। ताजा मामला दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत बैंक्विट हॉल, फार्म हाउसों, मोटलों और ऐसे अन्य स्थानों के लाइसेंस प्राप्त परिसरों में शादी समारोहों, पार्टियों और अन्य कार्यक्रमों में शराब परोसने के लाईसेंस को लेकर सामने आया है।

सरकार ने नई नीत‍ि के तहत इसके ल‍िए अस्थायी पी-10 लाइसेंस की जरूरत नहीं लेने की बात कही है। पी-10 लाइसेंस की जगह एक साल के लिए एल-38 लाइसेंस लेना होगा जिसे 5 से 15 लाख रुपए के शुल्क के भुगतान पर दिया जाएगा और यह राशि लाइसेंस प्राप्त परिसर के आकार पर निर्भर करेगी।

दिल्ली सरकार के आबकारी विभाग ने 2021-22 के लिए नई आबकारी नीति के तहत एल-38 लाइसेंस के आवेदनों के लिए नियम और शर्तें जारी की हैं। आबकारी आयुक्त की ओर से जारी क‍िए गए आदेश में कहा है क‍ि एक वर्ष के लिए लाइसेंस प्राप्त करने के बाद इन स्थानों पर किसी आयोजन के लिए अलग से पी-10 लाइसेंस की जरूरत नहीं होगी। हालांकि एल-38 लाइसेंस धारक एक पत्र जारी करेंगे जिसमें आयोजन की तारीख, अतिथियों की संख्या और अन्य जानकारी देनी होगी।

बताते चलें क‍ि द‍िल्‍ली हाईकोर्ट ने नई आबकारी नीत‍ि को लेकर मंगलवार को सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार से कहा कि वह दिल्ली आबकारी नीति 2021-22 के तहत शराब के उन ब्रांड की संख्या के बारे में जानकारी दे जिनका अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) तय किया गया है और जिनका अभी तय किए जाने हैं। अदालत ने सरकार से यह भी बताने के लिए कहा कि क्या किसी शराब ब्रांड का पंजीकरण पहले ही किया जा चुका है?

हाईकोर्ट उन 16 याचिकाकर्ताओं की याचिका पर सुनवाई की जोकि खुदरा शराब दुकानों के संचालन के चलते लाइसेंस के लिए सफल बोलीदाता हैं। याचिकाकर्ताओं ने दिल्ली सरकार के एक नवंबर, 2021 से लाइसेंस शुल्क वसूलने के फैसले को अवैध घोषित करने का अनुरोध किया।

इस बीच देखा जाए तो दिल्ली में 80 फीसदी दुकानों पर शराब की कमी हो गई है। ऐसे में शराब के शौकीन लोग जब दुकान पर पहुंच रहे हैं तो कहीं बोर्ड लगा दिख जा रहा है कि शराब नहीं है, केवल बीयर मिलेगी, तो कहीं दुकान में सभी ब्रांड उपलब्ध नहीं हैं। ब्रांड न होने से दुकान के काउंटर पर खडे़ कर्मचारी और शराब के शौकीनों के बीच बहस तक हो जा रही हैं। दुकानों के प्रबंधकों का कहना कि उन्होंने शराब मंगाने के लिए कंपनियों से संपर्क किया हुआ है, मगर कंपनियों ने माल देना बंद कर दिया है क्योंकि जो माल आया है, इसे 16 नवंबर तक ही बेचा जाना है।

अगर आप हमारे साथ कोई खबर साँझा करना चाहते हैं तो इस +91-95011-99782 नंबर पर संपर्क करें और हमारे सोशल मीडिया को फॉलो करने के नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें,

Follow us on social media:

Popular

More like this
Related

RBI ने England से कई टन गोल्ड लिया वापिस!

नई दिल्‍लीः भारत द्वारा खरीदा गया Gold अब Bank...

Reliance Industries का नया प्लान, Blinkit जैसी कंपनी को मिलेगी टक्कर

नई दिल्लीः भारत और एशिया के सबसे बड़े रईस...

सरेंडर करने से पहले CM Kejriwal ने लोगों से की ये अपील

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को...

Kapurthala में 2 गाड़ियों की हुई भीषण टक्कर, देखें वीडियो

कपूरथला : शहर के मस्जिद चौक पर आज सुबह...

Punjab : किसान ने जहरीली वस्तु निगलकर की आत्महत्या, देखें वीडियो

गुरदासपुर : डेरा बाबा नानक हलके के गांव शाहपुर...

बड़ा हादसाः 2 फैक्ट्रियों में लगी भयंकर आग, बाल-बाल बचे मज़दूर

सोनीपतः हरियाणा के सोनीपत के औद्योगिक इलाके में एक...