इस दिन होगी निर्जला एकादशी, जल का दान करने से मिलती है दोषों से मुक्ति

व्रत करने से सभी 24 एकादशी व्रतों का पुण्य लाभ प्राप्त हो सकता है 

Religious: निर्जला एकादशी का व्रत इस साल 18 जून मंगलवार को रखा जाएगा। यह व्रत ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को रखते हैं। इस बार यह तिथि 17 जून सोमवार को 04:43 एएम से 18 जून को 07:28 एएम तक रहेगी। ज्योतिषाचार्य डॉ. गणेश मिश्र का कहना है कि निर्जला एकादशी एक ऐसा व्रत है, जिसे सभी लोगों को रखना चाहिए। पांच पांडवों में से भीमसेन ने भी इस व्रत को रखा था। 

धार्मिक मान्यताओें के अनुसार, निर्जला एकादशी एक ऐसा व्रत है, जिसको करने से आपको पूरे साल के सभी 24 एकादशी व्रतों का पुण्य लाभ प्राप्त हो सकता है। इसका अर्थ है कि आप पूरे साल में मात्र निर्जला एकादशी का व्रत विधि विधान से करके सभी एकादशी व्रत के समान फल को प्राप्त कर सकते हैं।

निर्जला एकादशी के दिन आपको जल का दान जरूर करना चाहिए। इसके लिए एक कलश में पानी भर लें और उसे किसी जरूरतमंद या गरीब ब्राह्मण को दान कर दें। निर्जला एकादशी पर जल का दान करने से हर प्रकार की समस्याओं से निजात मिलता है। आर्थिक संकट, गृह क्लेश, रोग आदि से मुक्ति मिल सकती है। जल का दान करने से पितृ दोष और कुंडली के चंद्र दोष से भी मुक्ति मिल सकती है।